Maa To Maa Hoti Hai

Maa To Maa Hoti Hai

घर में हो या हो मंदिर में दोनों इक ही ज्योति है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

जिस में अपने लाल के उपर है माया बरसाई
हर पित नाम उन्हें भाता है मात कहो या माई
तू जागे तो जागे माता तू सोये तो सोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

जिस में अपने खून से सींचा अपने लाल का जीवन
सारे गम पीती है माँ खुश हाल हो लाल का जीवन
ममता माँ दो नाम है लेकिन एक सीप दो मोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

गीले में खुद सोती माँ सूखे में तुझे सुलाया
खुद माँ ने भूखे रेह कर तुझको भर पेट खिलाया
सिंचित होती उसी की भगियाँ ममता जिसे बिगोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

ढल जाती है राते सारी आँगन में चल चल के
वचपन से तू बड़ा हुआ जिनके साए में पल के
माँ अपने सारे बच्चो के सपने सदा संजोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

उनके चरण की पूजा करने दिल अपने अन्दर में
जन्मी होती घर की माता जगजनी मन्दिर में
तू हस दे तो हस दे माता तू रोये तो रोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

माँ से बढ़ कर दुनिया में क्या धीर कोई है प्यारा
ये दे नाम सदा मोरी मैया तकता तेरा द्वारा
माँ बेटे की खुशहाली के सपने सदा पिरोती है
माँ तो माँ होती है भाईया माँ तो माँ होती है

Maa To Maa Hoti Hai

Leave a Comment